मनरंगी

short poems

चंगे  मन के रंग अनेक

रंगों  में डूबा मनरंगी  |